जन वितरण व्यवस्था पर नजर रखने को सीनियर टीम का गठन

जिला प्रशासन ने जन वितरण प्रणाली द्वारा उपभोक्ताओं को ससमय खाद्यान उपलब्ध हो इसे सुनिश्चित करने के लिए वरीय उप समाहर्ताओं की टीम गठित की है। यह टीम सभी प्रखंडों में जा कर संबंधित जन वितरण प्रणाली की दुकानों के आसपास के उपभोक्ताओं से खाद्यान प्राप्ति के संबंध में पूछ-ताछ कर दोषी जन वितरण प्रणाली की दुकानदारों के विरूद्ध कार्रवाई हेतु अनुशंसा करेगी। प्रशासन के इस नए अभियान से उपभोक्ताओं को फायदा मिलेगा। यह अभियान इस लिए चलाया गया है ताकि उपभोक्ताओं को खाद्यान मिलने में आसानी हो तथा खाद्यानों की काला बाजारी पर अंकुश लगे। यह अभियान पूरे एक सप्ताह तक चलाई जाएगी। मालूम हो कि 15 दिनों के अंदर दो माह का खाद्यान जन वितरण प्रणाली के दुकानदारों को उपलब्ध कराया गया है। जिला प्रशासन यह सुनिश्चित करना चाहता है कि इस अनाज की कालाबाजारी न हो तथा उपभोक्ताओं को दोनों माह का अनाज ससमय मिल जाए। डीएम नवीन कुमार ने बताया कि उपभोक्ताओं के हित में यह कदम उठाया गया है। अधिकारियों की जांच में जो जन वितरण प्रणाली विक्रेता दोषी पाये जाएगें, उनके विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। साथ हीं गड़बड़ी करने वालों की अनुज्ञप्ति रद्द किया जा सकता है। वरीय उप समाहर्ता की सात टीमें गठित की गई है, जो प्रखंडों में क्षेत्र भ्रमण कर उपभोक्ताओं का फीडबैक प्राप्त कर प्रतिवेदन वरीय पदाधिकारी को समर्पित करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *