आंगनवाड़ी केंद्रों की स्थिति देखकर अचंभित रह गईं एसडीओ

जहानाबद। अनुमंडल पदाधिकारी निवेदिता कुमारी ने गुरुवार को एक दर्जन आंगनबाड़ी केंद्रों का निरीक्षण किया। उन्होंने निरीक्षण के क्रम में कई अनियमितता पाई। एसडीओ ने सर्वप्रथम सिकरिया तथा ईरकी के कई आंगनबाड़ी केंद्रों का निरीक्षण किया। उन्होंने ईरकी के आंगनबाड़ी केंद्र संख्या 231,201 के अलावा कई केंद्रों का भ्रमण किया। वह उस समय भौचक रह गई जब देवरिया दक्षिणी स्थित केंद्र संख्या 207 को बंद पाया। केंद्र को बंद देख वह हैरान रह गई। उन्होंने कहा कि बच्चों की शिक्षा के साथ खिलवाड़ करने वाली सेविका के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी। शैक्षणिक व्यवस्था के साथ-साथ बच्चों के लिए बन रहे भोजन की भी जांच की। मेनु के अनुसार भोजन नहीं देखने पर वहां उपस्थित सेविका, सहायिका को फटकार लगाई। उन्होंने स्वयं भोजन को बारिकी से देखा। अनुमंडल पदाधिकारी ने कहा कि जिन केंद्रों पर अनियमितता पाई गई है उन सेविका, सहायिका के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। बच्चे देश के भविष्य होते हैं। आंगनबाड़ी केंद्र बच्चों के लिए प्रथम पाठशाला होता है। जब प्रारंभिक दौर में ही उसके साथ लापरवाही बरती जाएगी तो बच्चे का भविष्य अंधकारमय हो जाएगा। उन्होंने सख्त लहजे में सेविकाओं को आगाह किया कि यदि बच्चों की शिक्षा तथा भोजन के अलावा देखरेख में अनियमितता पाई जाएगी तो केंद्र के संचालक बख्शे नहीं जाएंगे। चाहे वे कितने भी पहुंच वाले क्यों नहीं हों। सरकार ने छह वर्ष से कम उम्र वाले बच्चों के लिए आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से शिक्षा देने का प्रावधान कर रखी है। इन केंद्रों पर सरकार अरबों रूपए खर्च कर रही है। उसकी मंसा है कि आम आवाम के बच्चे शुरुआती दौर से ही शिक्षा प्राप्त करने में अव्वल हों। इसी सोंच के साथ शहर के अलावा गांवों में भी इस केंद्र की स्थापना की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *