भागलपुर: ट्रक-बस की टक्कर में 9 मजदूरों की मौत / साइकिल से लौट रहे प्रवासियों ने ट्रक से लिफ्ट ली, जान गंवाई; किसी का गला कटा, किसी का माथा फटा

  • टक्कर के बाद ट्रक अनियंत्रित होकर सड़क किनारे पलट गई
  • ट्रक पलटी तो उसमें लोड सरिया उछला और मजदूरों के शरीर में घुस गया

भागलपुर. बिहार के भागलपुर जिले में मंगलवार सुबह करीब 5:30 बजे हुए सड़क हादसे में 9 प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई। घटना नौगछिया के खरीक के एनएच 31 पर अंभू चौक के पास हुई। हादसे में मारे गए सभी प्रवासी मजदूर थे। ये साइकिल से घर लौट रहे थे और रास्ते में लिफ्ट लेकर ट्रक पर सवार हो गए थे। हादसा इतना भीषण था कि किसी का गला कट गया तो किसी का माथा फट गया।

मजदूरों के शरीर में घुसा सरिया

ट्रक में सरिया लोड था। प्रवासी मजदूर साइकिल से अपने घर लौट रहे थे। इन लोगों ने रास्ते में ट्रक ड्राइवर से लिफ्ट ली। सुबह दरभंगा से प्रवासियों को लेकर भागलपुर आ रही बस और ट्रक के बीच टक्कर हो गई। टक्कर के बाद ट्रक अनियंत्रित होकर सड़क किनारे पलट गया। ट्रक पलटते ही उसमें लोड सरिया उछला और मजदूरों के शरीर में घुस गया। सरिया से किसी का गला कट गया तो किसी का सिर फट गया। कई मजदूरों के पैर, हाथ और शरीर के अन्य अंगों को सरिया ने चीर दिया। ट्रक में सवार सभी मजदूर मारे गए। वे सरिया के नीचे दब गए थे। हादसे के बाद ट्रक का ड्राइवर और खलासी भाग गया। मारे गए श्रमिकों की पहचान नहीं हुई है। वे पश्चिम चंपारण के बताये जा रहे हैं। श्रमिक की साइकिलें भी ट्रक पर लोड थी।

बस में सवार चार प्रवासी घायल

हादसे की सूचना मिलने पर पुलिस आई और राहत व बचाव कार्य शुरू किया गया। जेसीबी की मदद से सरिया हटाया गया और अंदर दबे शव को निकाला गया। दूसरी ओर बस में सवार चार प्रवासी भी घायल हुए हैं। घायलों को मायागंज अस्पताल भागलपुर में भर्ती किया गया है। बस में सवार करीब 40 प्रवासी दरभंगा से आ रहे थे। ये लोग बंगलौर से श्रमिक स्पेशल ट्रेन में सवार होकर सोमवार रात 11 बजे दरभंगा पहुंचे थे। इन्हें बांका और भागलपुर के विभिन्न ब्लॉक के क्वारैंटाइन सेंटर में भेजा जा रहा था।

मृतकों के परिजनों को मिलेगा 4-4 लाख रुपए मुआवजा
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने प्रत्येक मृतक के परिवार को चार-चार लाख रुपए मुआवजा देने का आदेश दिया है। मुख्यमंत्री ने घायलों के समुचित इलाज का भी निर्देश दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *