शाह ने कहा- देश के विकास की नींव में है बिहार के प्रवासियों का पसीना

केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व पर मुहर लगा दी है। रविवार को वर्चुअल रैली में उन्होंने घोषणा की कि बिहार में एनडीए आगामी विधानसभा चुनाव नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव लड़ेगा और दो तिहाई बहुमत के साथ सरकार बनाएगा। उन्होंने कहा कि यह राजनीति का समय तो नहीं, लेकिन यह स्पष्ट है कि बिहार में नीतीश के नेतृत्व में सरकार बनेगी।

शाह ने दिल्ली भाजपा प्रदेश दफ्तर से पूरे बिहार के पार्टी कार्यकर्ताओं और आम लोगों को डिजिटल प्लेटफार्म से संबोधित किया। अपने 44 मिनट के संबोधन में उन्होंने लालू राज पर जमकर हमला बोला और नीतीश शासन की उपलब्धियां गिनाईं। शाह ने बिहार के प्रवासी मजदूरों की ताकत को नमन किया और कहा कि देश के विकास की नींव इन्होंने ही रखी है।

आज जितने भी विकसित प्रदेश हैं, उनके विकास में इन मजदूरों के पसीने की सुगंध है। शाह ने नीतीश कुमार के कार्यों की जमकर सराहना की। उनके सुशासन की प्रशंसा की। कहा-बिहार के विकास में उनकी भूमिक अप्रतिम है। सुशील मोदी की भी सराहना की।

विपक्ष पर ली चुटकी, कहा- देर से ही सही थाली तो पीटी

शाह ने राजद द्वारा थाली पीटने पर चुटकी ली और कहा कि देर से ही सही उन्होंने मोदीजी की अपील पर थाली तो पीटा। हालांकि, उन्होंने अपनी वर्चुअल रैली को चुनाव से जोड़ने की विपक्ष के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया और कहा- वक्र द्रष्टा विपक्ष को यह जान लेना चाहिए कि इस रैली का संबंध दूर-दूर तक चुनाव से नहीं है। जनसंपर्क भाजपा के संस्कार में है। आम लोगों तक पहुंचने का अपना संस्कार वह बचाए रखना चाहती है। राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के नेतृत्व में 75 डिजिटल कार्यक्रम हो चुके हैं। वर्चुअल रैली को राजनीतिक प्रोपेगंडा बताने पर भी उन्होंने विपक्ष को घेरा और कहा कि यह आत्मविश्वास से भरपूर देश की जनता का देश को बनाने का संकल्प की रैली है। दिल्ली में बैठकर मौज करने की बजाय पटना से दरभंगा तक इसी तरह की एक रैली कर लेते। किसने रोका है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *