जहानाबाद : वार्ड सदस्य, सचिव और जूनियर इंजीनियर सहित पांच पर केस

नल जल योजना पर शिथिलता बरतने वालों पर अब जिला प्रशासन की सख्ती का असर दिखने लगा है। डीएम के निर्देश पर प्रखंड क्षेत्र के नेरथुआ ग्राम पंचायत के वार्ड संख्या पांच यानि देवराज बीघा के वार्ड सदस्य, वार्ड सचिव, तत्कालीन जूनियर इंजीनियर, पंचायत सचिव सहित पांच लाेगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है। दरअसल उक्त वार्ड में ज़िला प्रशासन की टीम ने गत नौ दिसम्बर को स्थल जांच की थी। लगभग 25 घरों में कनेक्शन न होने और पाइपलाइन भूमि के तीन फीट अंदर न हो कर ऊपर से ही ले जाया गया था तथा गुणवत्ता से खिलवाड़ किया गया था।

बाद में डीपीओ ने अपनी जांच रिपोर्ट में वार्ड सदस्य, क्रियान्वयन समिति के सचिव, तत्कालीन पंचायत सचिव, कनीय अभियंता के साथ मुखिया को भी दोषी ठहराते हुए करवाई की अनुशंसा की थी। कार्रवाई नही किए जाने के कारण उप विकास आयुक्त मुकुल कुमार गुप्ता ने प्रखंड विकास पदाधिकारी संजीव कुमार से पर्यवेक्षण न करने और कार्य में लापरवाही बरतने के एवज में स्पष्टीकरण की मांग की थी। भेलावर ओपी मुकेश कुमार ने बताया कि पंचायती राज पदाधिकारी राजीव कुमार के आवेदन पर वार्ड सदस्य सुबोध कुमार, वार्ड सचिव रामजी मांझी, तत्कालीन पंचायत सचिव योगेंद्र प्रसाद सिंह, तत्कालीन कनीय अभियंता सतीश कुमार पर भेलवार ओपी में मामला दर्ज कराई गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *