इंटरमीडिएट की परीक्षा से निष्कासित किए गए छात्रों ने किया हंगामा, एसएच को किया जाम

इंटरमीडियट की परीक्षा में मंगलवार को निष्कासित किए गए बच्चों व उनके परिजनों ने शहर के राज्य संपोषित विद्यालय के समीप बुधवार को स्टेट हाईवे को जाम कर हंगामा किया। दरअसल मंगलवार को कदाचार के आरोप में परीक्षा से एक्सपेल्ड बच्चे व उनके अभिभावक काफी नाराज थे। हंगामा कर रहे छात्रों एवं उनके परिजनों ने स्कूल के समीप एसएच पर उतर कर जहानाबाद- घोसी मुख्य सड़क को जाम कर दिया जिससे उक्त व्यस्त सड़क पर आवागमन लगभग घंटे भर बुरी तरह बाधित हो गया।

अभिभावकों व बच्चों के हुजूम को केन्द्र के पास देखकर परीक्षा केंद्र का मुख्य गेट बंद कर दिया गया। इस पर हंगामा करने वाले लोगों ने परीक्षा केंद्र पर रोड़ेबाजी भी की । बाद में मौके पर पहुंचे अधिकारियों व पुलिस बल ने हल्का बल प्रयोग कर आक्रोशित लोगों को वहां से खदेड़ दिया। इधर निष्कासित किए गए परीक्षार्थियों का कहना था कि मंगलवार को दूसरी सिटिंग के अंतिम वक्त में पहुंची एक महिला अधिकारी ने उन लोगों को खड़ा कर उनकी तलाशी ली। जांच पड़ताल में किसी के पास कुछ नहीं मिला तो कमरा में जमीन पर कागज मिलने पर एक के बाद एक 27 परीक्षार्थियों को परीक्षा से निकाल दिया गया।

जमीन पर कागज मिलने पर 27 छात्रों को परीक्षा से महिला अधिकारी ने निकाला बाहर

जांच अधिकारी पर मनमानी करने का आरोप, दोषी पर कार्रवाई की कर रहे थे मांग
संबंधित बच्चों ने बताया कि हालांकि इसकी सूचना उन्हें तत्काल नहीं दी गई। दूसरे दिन जब वे लोग बुधवार को परीक्षा सेंटर पर पहुंचे तो उन्हें एक्सपेल्ड होने की जानकारी दी गई। अब अचानक उन्हें परीक्षा से वंचित किया जा रहा है। निष्कासित बच्चों ने बताया कि उनके साथ केन्द्र के अधिकारियों ने घोर अन्याय किया है। कदाचार का आरोप बेबुनियाद है। यह उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ है। इसकी निष्पक्ष जांच कराकर दोषी वीक्षक पर कड़ी कार्रवाई की जाए। उन्हें दोबारा परीक्षा दिलाने के इंतजाम किए जाएं क्योंकि उनलोगों ने नकल नहीं की है। जिससे उन लोगों का साल भर का समय अनावश्यक बर्बाद होगा। परीक्षार्थियों का यह भी कहना था की साल भर में कोरोना काल के कारण स्कूल नहीं चला है वही परीक्षा के संचालन में लगे अधिकारी अपनी मनमर्जी चलाकर उनके भविष्य से खेल रहे हैं।

अधिकारियों ने वैकल्पिक समाधान का दिलाया भरोसा

इधर सडक जाम की सूचना पाकर दल बल के साथ पहुंचे एसडीओ निखिल धनराज निपिनकर ,एसडीपीओ अशोक पांडे छात्रों से वार्ता की। मौके पर रहे एसडीओ एवं डीईओ रामसागर प्रसाद सिंह ने बिहार विद्यालय परीक्षा समिति से अप्रैल में विशेष परीक्षा लेने का आग्रह करने के लिए पत्राचार करने की बात कह जाम को हटवाया। इस बीच लगभग एक घंटा तक सड़क पर जाम लगा रहा। दोनों तरफ वाहनों की कतार लग गई। इससे मुख्य सड़क से आने जाने वाले लोगों को परेशानी उठानी पड़ी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *