जहानाबाद: शुरू हो रही मैट्रिक परीक्षा में सोलह केंद्रों पर शामिल होंगे 20 हजार 845 छात्र

बुधवार से शुरू होने वाले मैट्रिक की परीक्षा की सभी प्रशासनिक तैयारियां पूरी कर ली गई है। आगामी 24 फरवरी तक आयोजित होने वाले परीक्षा के लिए इस बार भी जिले मे परीक्षा के लिए शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों मे कुल 16 केंद्र बनाए गए हैं। परीक्षा में इस बार कुल 20 हजार 845 छात्र व छात्राएं शामिल होंगे।जिला शिक्षा पदाधिकारी राम सागर प्रसाद सिंह से मिली जानकारी के अनुसार प्रथम पाली में 10 हजार 407 एवं द्वितीय पाली में 10 हजार 438 परीक्षार्थी परीक्षा मेंके लिए सात केंद्र बनाया गया है। नौ केंद्रों में लड़कियां 10 हजार 590 एवं लड़के 10 हजार 438 परीक्षा में शामिल होंगे। जिला प्रशासन ने केन्द्रों के बाहर से अंदर तक सुरक्षा के लिए व्यापक इंतजाम किए हैं। केन्द्रों की निगरानी के लिए स्टैटिक मजिस्ट्रेट व सुरक्षा बलों की पर्याप्त संख्या में प्रतिनियुक्ति कर दी गई है। सुरक्षा की जांच के बाद ही केन्द्रों पर प्रवेश मिलेगा। अनाधिकृत किसी व्यक्ति को केन्द्रों पर प्रवेश को प्रतिबंधित किया गया है। कोरोना प्रोटोकॉल का परीक्षा में पूरी तरह से पालन किया जाएगा।

कोरोना प्रोटोकॉल का हर हाल में परीक्षा के दौरान किया जाएगा पालन

जहानाबाद शहर व मखदुमपुर के स्कूलों में बनाए गए परीक्षा केन्द्र
लड़कियों के लिए बनाए गए केंद्रों में बाबा साहब भीम राव आंबेडकर विद्यालय में प्रथम पाली में 551 व द्वितीय पाली में 537 ,आदर्श मध्य विद्यालय उंटा कें शामिल होंगे।इस बार जिला प्रशासन द्वारा लड़कियों के लिए नौ व लड़कों द्र में प्रथम पाली में 441 एवं द्वितीय पाली में 442 ,मानस इंटर नेशनल दक्षिणी में प्रथम पाली में 535 एवं द्वितीय पाली में 560 ,गांधी स्मारक इंटर स्तरीय विद्यालय में प्रथम पाली में 824 एवं द्वितीय पाली में 816 ,राज्य संपोषित बालिका विद्यालय में प्रथम पाली में 736 एवं द्वितीय पाली में 552 ,गौतम बुद्ध उच्च विद्यालय में प्रथम पाली में 725 एवं द्वितीय पाली में 739 ,मुरलीधर उच्च विद्यालय में प्रथम पाली में 773 एवं द्वितीय पाली में 790 एवं कन्या मध्य विद्यालय परीक्षा केंद्र में प्रथम पाली में 405 एवं द्वितीय पाली में 450 छात्राएं एवं सिद्वार्थ टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज में प्रथम पाली में 348 एवं द्वितीय पाली में 366 छात्राएं परीक्षा में शामिल रहेंगी। इसी प्रकार लड़कों के लिए बनाए गए सात केंद्रों में शांतिकुंज पब्लिक स्कूल में प्रथम पाली में 725 एवं दुसरी पाली में 649,एएनआर पब्लिक स्कूल परीक्षा केंद्र में प्रथम पाली में 706 एवं द्वितीय पाली में 698,एसएस कॉलेज में प्रथम पाली में 1140 परीक्षार्थी शामिल होंगे।

प्रवेश पत्र में त्रुटि पर आधार कार्ड से मिल सकेगा प्रवेश

कोरोना संक्रमण के बीच कैसे परीक्षा देनी है। केंद्र पर प्रवेश के दौरान क्या ख्याल रखना है। इन सभी बातों की जानकारी बोर्ड द्वारा प्रवेश पत्र पर डाली गयी है। परीक्षार्थी को प्रवेश पत्र को अच्छी तरह से पढ़ कर आने का निर्देश दिया गया है। मास्क लगाकर ही केंद्र पर प्रवेश मिलेगा। उक्त जानकारी देते हुए जिला शिक्षा पदाधिकारी राम सागर प्रसाद सिंह ने बताया कि मैट्रिक परीक्षा के लिए सभी वीक्षकों की नियुक्ति रैंडमली की जाएगी। एक स्कूल के सभी शिक्षक दूसरे स्कूल में जाकर वीक्षक की ड्यूटी देंगे। इसके लिए शिक्षकों के नाम की लॉटरी निकालने की प्रक्रिया हो रही है। इसके बाद सभी शिक्षकों को उनके केंद्र की जानकारी मिलेगी। नाम निकलने के बाद शिक्षक संबंधित केंद्र पर अपना योगदान देंगे।

10 तरह के कागजातों पर मिलेगा प्रवेश
परीक्षार्थी अपने साथ छह तरह के प्रमाण पत्र लाकर प्रवेश कर पाएंगे। आधार नंबर के अलावा वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, पासपोर्ट या फोटोयुक्त बैंक पासबुक में से किसी एक को दिखा कर परीक्षा केंद्र पर प्रवेश कर पाएंगे। ज्ञात हो कि हर साल कई परीक्षार्थी के प्रवेश पत्र में फोटो की गड़बड़ी हो जाती है। इससे छात्र को परीक्षा देने में कठिनाई का सामना करना पड़ता है। इसलिए बोर्ड द्वारा यह इंतजाम किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *