जमा पूंजी पर डाका डाल साइबर अपराधियों ने बना ली है अकूत संपत्ति

धीरज और रौशन की गिरफ्तारी के बाद उसके गिरोह से जुड़े लोगों की संपत्ति और उसके रहन सहन को लेकर शहर में चर्चा काफी तेज हो गई है। लोग बताते हैं कि साईबर अपराधियों ने अपने फ्रॉड से अकूत संपत्ति बना ली है। नया टोला से गिरफ्तार धीरज के बारे में जो जानकारी हासिल हो रही है, वह हैरान करने वाली है।

महज पानी पूरी यानी गोलगप्पे का ठेला लगाने वाले के बेटे ने कुछ ही समय में फोर व्हीलर गाड़ी, महंगे आईफोन , मोटे मोटे सोने के चेन के अलावा घर में ऐशो आराम की सारी चीजें खरीद रखी थी। लोग कहते हैं कि अगर उसके मोबाइल की गहराई से जांच की जाये तो साइबर अपराधियों के साथ साथ उसके पनाहगारो की भी कलई खुल सकती है।

चर्चा यह भी है वह कई पुलिस कर्मियों को मंहगी महंगी गिफ्ट देने के साथ साथ बाहर में ऐश कराने का ऑफर भी देता था। अपने पाप की कमाई को ढकने के लिए वह अपने दोस्तों की सलाह पर गरीबों के बीच रहनुमा बनकर खाद्य सामग्री भी बांटता था। दो दिनों तक शहर के अलग-अलग ठिकानों पर छापेमारी करने और कई साक्ष्य को एकत्रित करने के बाद मध्य प्रदेश पुलिस की माने तो जिले में साइबर अपराध का एक बड़ा गिरोह सक्रिय है, जिसका नेटवर्क बिहार के अन्य जिलों के अलावा दूसरे राज्यों से भी जुड़े हैं।

साइबर अपराध के भंडाफोड़ और इस गिरोह से जुड़े लोगों को जेल की सलाखों के पीछे भेजने के लिए जिले के लोगों को नए पुलिस कप्तान से काफी उम्मीदें हैं। एक सप्ताह पहले परस बीघा थाने की पुलिस ने साइबर अपराध के एक गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए चार अपराधियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *