जनशताब्दी में घटना होते होते बच गया

पटना-गया रेलखंड के नेयाजीपुर हॉल्ट पर ट्रेन रोकने के लिए बदमाशों ने पटरी की चाबी निकाल लिया और यात्री शेड का सीमेंट चादर बिछा दिया। पटना से रांची जाने वाली जनशताब्दी एक्सप्रेस ऐसी ही स्थिति में गुजर गई। बदमाशों ने पथराव किया जिससे बोगी का शीशा टूट गया। शरारती तत्वों की हरकत से बड़ी घटना हो सकती थी। घटना रविवार की सुबह तकरीबन साढ़े सात बजे की है।

मिली जानकारी के अनुसार जनशताब्दी एक्सप्रेस नेयाजीपुर हॉल्ट पहुंची लेकिन इससे पहले ही युवकों पटरी का करीब आधे दर्जन चाबियां निकाल ली गई थी। यात्री शेड के करकट को खोलकर कर ट्रैक के बीचोबीच रख दिया गया था। ट्रेन के चालक इन सभी कारनमों से अनजान थे। रफ्तार के साथ यहां से ट्रेन गुजर गई। लेकिन इस बीच युवकों द्वारा जमकर पत्थरबाजी भी की गई जिससे एसी बोगी के शीशे भी फूट गए और कई यात्रियों की चोटे आई। पत्थराबाजी की सूचना मिलने पर जब आरपीएफ तथा जीआरपीएफ की पुलिस यहां पहुंची तो ट्रैक की स्थिति को देख वे लोग दंग रह गए। आधे दर्जन चाबिया निकाले जाने के बावजूद ट्रेन की सकुशल गुजर जाना भगवान की कृपा ही थी। आरपीएफ इंस्पेक्टर मनीष कुमार, रेल थानाध्यक्ष लल्लु सिंह ने पटरियों की बारीकी से निरीक्षण किया। ट्रैक की स्थिति को देख पीडब्लूआई के लोगों को बुलाने की नौबत आई। पीडब्लूआई के वरीय प्रशाखा अभियंता शंभु प्रसाद दल बल के साथ वहां पहुंचे। ट्रैक को दुरूस्त किया गया। अधिकारियों का कहना है कि जिस तरह ट्रैक की चाबी निकाल ली गई थी उससे पटरी से ट्रेन का गुजरना काफी खतरनाक था। यदि इमजरेंसी ब्रेक लगाई जाती तो बड़ी घटना हो सकती थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *