चार मई से शुरू होगी सीबीएसई की दसवीं व बारहवीं की परीक्षा, तैयारी में जुटे छात्र

सीबीएसई दसवीं और बारहवीं की परीक्षाएं चार मई से शुरू होंगी। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन ने परीक्षाओं के लिए डेट शीट जारी कर दिया है। संबंधित परीक्षार्थियों व अभिभावकों का कहना है कि परीक्षा से काफी दिन पहले डेटशीट आ जाने के कारण छात्रों को तैयारी करने का बेहतर मौका मिला है। स्टूडेंट्स भी इस गोल्डन चांस का फायदा उठाने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं। सीबीएसई संगठन द्वारा जारी गाइड लाइन के अनुसार एग्जाम में 33 प्रतिशत इंटरनल च्वाइस क्वेश्चन होंगे। इस बार एग्जाम में मल्टीपल च्वाइस क्वेश्चन ज्यादा पूछे जाएंगे।

शिक्षा मंत्रालय ने 10वीं और 12वीं की परीक्षा में ऐसे सवालों की संख्या हर साल दस प्रतिशत बढ़ाने का नोटिस जारी किया था। उन्होंने बताया कि 10वीं की परीक्षाएं 7 जून तक चलेंगी, जबकि 12वीं की परीक्षाएं 11 जून तक आयोजित की जाएंगी। दोनों ही क्लास के प्रैक्टिकल एग्जाम 1 मार्च से शुरू हैं। वहीं, रिजल्ट 15 जुलाई तक जारी कर दिया जाएगा। कम समय में परीक्षाएं खत्म करने के लिए सीबीएसई ने 12वीं की परीक्षाएं दो शिफ्ट में आयोजित करने का फैसला किया है। दूसरी शिफ्ट में उन विषयों की परीक्षा ली जाएगी।

लैंग्वेज से 10वीं की परीक्षा होगी शुरू, छोटा होगा शेड्यूल

10वीं के पेपर 4 मई को लैंग्वेज से शुरू होंगे। आखिरी पेपर 7 जून को कम्प्यूटर एप्लीकेशंस का होगा। 12वीं के भी पेपर 4 मई को इंग्लिश पेपर के साथ शुरू होंगे। आंत्रप्रेन्योरशिप, बायाटेक्नोलॉजी, लाइब्रेरी साइंस, ब्यूटी एंड वेलनेस और एग्रीकल्चर जैसे सब्जेक्ट्स के साथ 11 जून को परीक्षा खत्म होगी। सीबीएसई की परीक्षाएं इस बार करीब ढ़ाई महीने की देरी से शुरू हो रही हैं। पिछले साल ये 15 फरवरी से शुरू हो गई थीं। 2020 में 45 दिनों का शेड्यूल था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *