जहानाबाद: सिपाही भर्ती परीक्षा में कदाचार के अारोप में 11 परीक्षार्थियों को किया गया गिरफ्तार

शहर में विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर सख्त सुरक्षा व्यवस्था में सेंध लगाकर सिपाही भर्ती परीक्षा में कदाचार करते ग्यारह परीक्षार्थियों को गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तारी के बाद संवाद प्रेषण तक आगे की कार्रवाई की जा रही थी। जिलाधिकारी नवीन कुमार व एसपी दीपक रंजन ने परीक्षा के कदाचारमुक्त संचालन के लिए पहले ही ज्वाइंट आदेश निकालकर अधिकारियों को केन्द्रों पर कड़ी निगरानी रखने का निर्देश दिया था। बावजूद इसके कई केन्द्रों पर कुछ परीक्षार्थियों ने कदाचार की कोशिश की। कदाचार की कोशिश करते विभिन्न केन्द्रों से ग्यारह परीक्षार्थियों को रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया गया।

उन्हें परीक्षा से निष्कासित भी कर दिया गया। एडीपीओ अशोक कुमार पांडेय ने बताया कि शहर के एएनएस कॉलेज सेंटर से छह परीक्षार्थी ब्लूटूथ के साथ पकड़े गए। इसके अलावा गौतमबुद्ध स्कूल सेंटर व राज्य संपोषित गर्ल्स स्कूल से एक-एक परीक्षार्थी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के साथ पकड़े गए। इसी प्रकार पीपी पब्लिक स्कूल सेंटर, मुरलीधर इंटर स्कूल सेंटर से एक परीक्षार्थी डूप्लीकेट आंसरशीट के साथ गिरफ्तार किया गया। इसके अलावा कुछ अन्य चीट पुर्जे के साथ पकड़े गए। इस प्रकार कुल ग्यारह अभ्यर्थियों को कदाचार करते रंगे हाथ पकड़ते हुए उन्हें पहले परीक्षा से निष्कासित कर दिया गया और फिर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। विभिन्न केन्द्रों पर प्रशासन की कड़ी कार्रवाई के बाद हड़कंप मच गया।

देर से आने पर कइयों अभ्यर्थियों को नहीं मिला प्रवेश तो गेट पर किया हंगामा
इधर कई केन्द्रों पर निर्धारित समय से बाद में पहुंचे पर अभ्यर्थियों को केंद्र में प्रवेश नहीं मिलने पर जमकर हंगामा किया। सुबह इस बजे से शुरू होने वाली सिपाही भर्ती की प्रथम पाली की परीक्षा में 20 मिनट पहले तक परीक्षा केंद्रों पर प्रवेश का समय निर्धारित था। लेकिन मोबाइल पर सवाल-आंसर देखने के चक्कर में कई परीक्षार्थी केंद्र पर विलंब से पहुंचे। हालांकि परीक्षार्थी विलंब का उचित कारण शहर के जाम की समस्या बता रहे थे। इधर निर्धारित समय के बाद परीक्षा केंद्र का गेट बंद कर दिया गया था। मुरलीधर हाई स्कूल एवं गौतमबुध हाई स्कूल पर गेट से बाहर रहे अभ्यर्थियों की संख्या अच्छी खासी हो गई।

शहर के इन स्कूलों में बनाए गए थे परीक्षा केन्द्र | बाल विद्या निकेतन, पटेल नगर, मुरलीधर इंटर विद्यालय, गौतमबुद्ध इंटर स्कूल, एस.एन.एस. काॅलेज, ब्रिलियंट पब्लिक स्कूल, एएनएस काॅलेज, गांधी स्मारक इंटर विद्यालय, प्रतिभा पल्लवन पब्लिक स्कूल, राज्य संपोषित बालिका इंटर विद्यालय, डाॅ. भीमराव अंबेडकर अनुसूचित जाति बालिका आवासीय विद्यालय दक्षिणी तथा मानस इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल, दक्षिणी में आयोजित किया गया।

परीक्ष को लेकर पहले ही जारी किए गए थे कई प्रतिबंध| परीक्षा को कदाचार मुक्त बनाने के लिए फर्जी परीक्षार्थी एवं ब्लू-टूथ इत्यादि इलेक्ट्रॉनिक उपकरण का प्रयोग करने वालों पर कठोर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश जारी किया गया था। केन्द्राधीक्षकों को परीक्षा के दिन सभी कोटि के कर्मी, पदाधिकारी, अभ्यर्थी निश्चित रूप से मास्क का उपयोग करने की हिदायत दी गई थी।

परीक्षा के पहले प्रश्नपत्र वायरल होने की सूचना से बढ़ी थी सरगर्मी | इधर परीक्षा को लेकर पूरे दिन शहर मे सरगर्मी बनी रही। परीक्षा केंद्र के इर्द-गिर्द सुबह से शाम तक लोगों की भीड़ लगी थी। दोनों सिटिंग में परीक्षा शुरू होने के घंटा भर पूर्व से सवाल वायरल होने की समाचार सामने आती रही। हालांकि मोबाइल पर वायरल हुआ प्रश्न सही था, इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *