नया पुलिस विधेयक लोकतंत्र को रौंदने का हथियार, नहीं चलेगी सरकार की मनमानी

भाकपा माले के जिला कार्यालय से सोमवार को कार्यकर्ताओं ने एक जुलूस निकाल कर प्राचीन देवी मंदिर मेन रोड होते हुए अरवल मोड़ पहुंच पुलिस विधेयक की प्रतियां जलाकर अपना तीव्र विरोध प्रदर्शित किया। पार्टी नेताओं ने नए पुलिस विधेयक को काला कानून की संज्ञा देते हुए उसे लोकतंत्र को रौंदने का सरकारी हथियार बताता। पार्टी नेताओं ने कहा कि वे सरकार की मनमानी को नहीं चलने देंगे। आगे भी इस कानून का विरोध जारी रहेगा।

मौके पर आयोजित एक सभा को संबोधित करते हुए घोसी विधायक रामबली सिंह यादव ने कहा कि लोकतंत्र में पुलिस को ऐसे अधिकार नहीं दिए जा सकते। ऐपवा नेत्री कुंती देवी, जिला कमेटी सदस्य हसनैन अंसारी, काको प्रखंड सचिव विनोद कुमार भारती, वसी अहमद, माले जिला कार्यालय सचिव श्याम पांडेय, युवा नेता मुकेश पासवान,संतोश केशरी, सतीश चौधरी व मिटठुविश्वकर्मा आदि ने नए विधेयक का विरोध किया। घोसी विधायक ने कहा कि सरकार एक एेसा कानून बनाने की फिराक में है जिसमें पुलिस को इतना अधिकार मिल जाएगा कि वह बेलगाम हो सके। पुलिस राज कायम कर सरकार अपनी मनमानी चलाना चाह रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *