बिहार बोर्ड के इंटर रिजल्ट में 78.04% पास : कॉमर्स में औरंगाबाद की सुगंधा, साइंस में नालंदा की सोनाली टॉपर, आर्ट्स में खगड़िया की मधु और सिमुलतला के कैलाश टॉपर, टॉपर्स में चंपारण के 7

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने इंटरमीडिएट की परीक्षा का परिणाम शुक्रवार को 3:23 बजे जारी कर दिया। इस बार कुल 10,45950 परीक्षार्थी सफल हुए हैं। सफलता का प्रतिशत 78.04 रहा है। आर्ट्स में 77.97, कॉमर्स में 91.48 और साइंस में 76.28 प्रतिशत परीक्षार्थियों ने सफलता पाई है। बिहार बोर्ड देश का पहला बोर्ड है जो पिछले 3 साल से देश मे सबसे पहले रिजल्ट दे रहा है। आर्ट्स, कॉमर्स और साइंस तीनों संकायों में लड़कियों ने बाजी मारी है। आर्ट्स में मधु भारती, कॉमर्स में सुगंधा कुमारी और साइंस में सोनाली कुमारी टॉपर रही हैं।

मधु भारती को 463, सुगंधा कुमारी को 471 और सोनाली कुमारी को भी 471 नंबर प्राप्त हुए हैं। ऑर्ट्स में मधु भारती के साथ सिमुलतला आवासीय विद्यालय के कैलाश कुमार संयुक्त रूप से टॉपर बने हैं। ऑर्ट्स में टॉप 5 में मधु भारती के साथ कैलाश कुमार, नंदिनी भारती, अभिषेक कुमार, श्वेता रानी, शाल्वी कुमारी और प्रिया कुमारी शामिल हैं। कॉमर्स में टॉप 5 में सुगंधा कुमारी के साथ मोहम्मद चांद, प्रिति सिंह, मोहम्मद एहतेशाम, शाहिमा बानो, मैत्रिका वर्मा, रक्षा राज, सिवानी कुमारी और पीयूष साहा शामिल हैं। साइंस में टॉप 5 में जगह बनानेवालों में सोनाली कुमारी, अमन राज, नवीन कुमार, मोहम्मद शाकीद, कल्पना कुमारी और प्रियांशु राज शामिल हैं।

तिरहुत प्रमंडल से सबसे ज्यादा टॉपर

बिहार बोर्ड ने तीनों विषयों में सर्वाधिक नंबर लाने वाले 5-5 परीक्षार्थियों को टॉपर के रूप में घोषित किया। इसमें तिरहुत प्रमंडल के पश्चिम चंपारण से अकेले 5, जबकि पूर्वी चंपारण से 2 टॉपर रहे। इसके बाद मुख्यमंंत्री के गृह जिले नालंदा के 4 परीक्षार्थी टॉपर्स की सूची में रहे। पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश से सटे बिहार के सुदूरवर्ती किशनगंज जिले से 3 टॉपर रहे। औरंगाबाद से 2 परीक्षार्थी टॉपर सूची में रहे। रिजल्ट जारी करने वाले शिक्षा मंत्री के जिले समस्तीपुर को एक भी टॉपर नहीं मिला, जबकि राज्य मुख्यालय पटना के नसीब में एक ही टॉपर रहा। खगड़िया ने आर्ट्स में स्टेट टॉपर दिया। जमुई के सिमलुतला आवासीय विद्यालय के इकलौते छात्र कैलाश ने भी आर्ट्स स्टेट टॉपर के बराबर ही 463 नंबर लाया। भागलपुर, गोपालगंज और बक्सर को भी एक-एक टॉपर मिले। 38 में से 27 जिलों से कोई टॉपर नहीं निकला।

साइंस-कॉमर्स में 471 गया उच्चतम, आर्ट्स में 463 नंबर
500 अंकों की परीक्षा में साइंस और कॉमर्स के परीक्षार्थियों का अधिकतम नंबर 471 रहा। आर्ट्स में टॉपर का नंबर 463 गया। 463 नंबर आर्ट्स में R लाल कॉलेज खगड़िया की मधु भारती और सिमुलतला आवासीय विद्यालय जमुई के कैलाश कुमार को मिला। कॉमर्स में SN सिन्हा कॉलेज औरंगाबाद की सुगंधा कुमारी और साइंस में श्रीमती परमेश्वरी देवी गर्ल्स उच्चतर माध्यमिक स्कूल बिहारशरीफ की सोनाली कुमारी को 471-471 नंबर आए।

इंटर रिजल्ट में दिखा तिरहुत का प्रभाव, यह भी भास्कर ने पहले कहा था

इंटर के तीनों स्ट्रीम के रिजल्ट में तिरहुत का प्रभाव भी देखने को मिला है। भास्कर ने बुधवार को ही अपनी खबर में यह जानकारी दी थी। तिरहुत प्रमंडल के पूर्वी और पश्चिमी चंपारण जिलों से कुल सात स्टूडेंट्स ने टॉपर्स की लिस्ट में जगह बनाई है। आर्ट्स स्ट्रीम के टॉप- 5 की लिस्ट में पश्चिम चंपारण जिले से दो लड़कियां हैं। इसी तरह कॉमर्स स्ट्रीम के टॉप- 5 की लिस्ट में पश्चिम चंपारण जिले के बेतिया से तीन लड़कियां हैं। साइंस स्ट्रीम के टॉप- 5 की लिस्ट में पूर्वी चंपारण जिले से दो स्टूडेंट शामिल हैं।

ऑर्ट्स में सफलता का प्रतिशत 77.97

इस बार ऑर्ट्स में 44,7404 लड़कियों ने परीक्षा दी, जिनमें 35,7481 लड़कियों ने सफलता प्राप्त की। उनकी सफलता का प्रतिशत 79.90 रहा। वहीं, 27,9312 लड़कों में 20,9169 पास हुए। इनकी सफलता का प्रतिशत 74.89 रहा। दोनों मिलाकर ऑर्ट्स में कुल सफलता का प्रतिशत 77.97 रहा। कॉमर्स में 25,460 लड़कियों में से 24,059 में सफलता प्राप्त की। उनकी सफलता का प्रतिशत 94.50 प्रतिशत रहा। जबकि इसी संकाय में 48,441 लड़कों में से 43,547 पास हुए और इनकी सफलता का प्रतिशत 89.90 रहा।

42 दिनों के अंदर जारी हुआ रिजल्ट

कुल 13,40267 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए थे। इस बार परीक्षा का परिणाम 42 दिनों के अंदर जारी हो गया है। शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने बिहार बोर्ड के दफ्तर से रिजल्ट जारी किया। इंटरमीडिएट परीक्षा 2021 के लिए 13.50 लाख छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था और कोरोना के प्रभाव के बीच प्रदेश के 1473 केंद्रों पर परीक्षा ली गई थी। BSEB की वेबसाइट अभी नहीं खुल रही है। रिजल्ट जारी होने से पहले ही biharboardonline.bihar.gov.in वेबसाइट का सर्वर डाउन हो गया। परीक्षार्थियों को इससे काफी परेशानी हुई। वे अपना रिजल्ट जानने के लिए बार-बार वेबासाइट पर क्लिक करते रहें। लेकिन उन्हें निराशा हाथ लगी। पिछले साल इंटर का रिजल्ट 39 दिन बाद आया था। इस बार 42 दिन में रिजल्ट आ रहा है।

तीनों स्ट्रीम में लड़कियां टॉपर, भास्कर ने पहले ही कहा था

इंटर रिजल्ट के तीनों स्ट्रीम में लड़कियों ने बाजी मार ली है। विज्ञान में सोनाली कुमारी, कॉमर्स में सुगंधा कुमारी और आर्ट्स में मधु भारती ने टॉप किया है। इस रिजल्ट के साथ ही भास्कर की उस खबर पर भी मुहर लग गई है, जिसमें हमने कहा था कि इस बार लड़कों को सिर्फ साइंस से उम्मीद है। आर्ट्स और कॉमर्स में लड़कियों ने बाजी मार ली है। भास्कर ने बिहार बोर्ड द्वारा उच्च प्राप्तांक लाने वालों की रिव्यू प्रक्रिया को देखने के बाद बुधवार को ही अपनी खबर में यह जानकारी दे दी थी। रिजल्ट जारी करने के दौरान शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने कहा कि बिहार बोर्ड देश का पहला बोर्ड है जो पिछले 3 साल से देश में सबसे पहले रिजल्ट दे रहा है। इसके लिए बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर को बधाई देता हूं।

इस साल 672 परीक्षार्थियों को किया गया निष्कासित

1 से 13 फरवरी तक चली परीक्षा में 672 परीक्षार्थियों को निष्कासित किया गया था, जबकि दूसरे की जगह परीक्षा देने वाले 75 मुन्ना भाइयों को भी पकड़ा गया था। मुन्ना भाइयों में भागलपुर सबसे अव्वल रहा, जहां से कुल 33 लोगों को पकड़ा गया था। निष्कासित परीक्षार्थियों के मामले में जमुई नंबर एक रहा, यहां 107 परीक्षार्थी को परीक्षा के दौरान नकल करते या नकल की सामग्री के साथ पकड़ा गया था। इंटर परीक्षा में सर्वाधिक प्राप्तांक लाने वाले ऊपर के करीब 300 परीक्षार्थियों का बुधवार को बिहार बोर्ड में रिव्यू किया गया था ताकि टॉपर्स की घोषणा की जा सके

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *