जहानाबाद: मजदूर विरोधी बिल के विरोध में हुआ प्रदर्शन, जलाईं लेबर कोड की प्रतियां

संयुक्त ट्रेड यूनियनों के आह्वान पर चार मजदूर विरोधी बिल के विरोध के देश व्यापी कार्यक्रम के तहत ऐक्टू के मजदूरों ने गुरुवार को स्थानीय काको मोड़ के पास प्रदर्शन कर चार श्रम कोड की प्रति जलाई। ऑल इंडिया सेन्ट्रल कॉनशिल अॉफ ट्रेड यूनियन के जिला इकाई से जुड़े मजदूरों के द्दारा ऐक्टू के राष्टीय परिषद सदस्य शिवसंकर प्रसाद के नेतृत्व में यहां काको मोड के समीप मजदूर विरोधी कानूनो की प्रति जलाकर कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। माले के जिला प्रवक्ता श्याम पांडेय ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार द्दारा 44 श्रम कानूनों को निरस्त कर चार कोड बनाकर अब उसे अधिनियम का रूप दे दिया गया है।

वास्तव में यह कोड अधिनियम (ऐक्ट) अलोकतांत्रिक तरीके से संसद में पारित कराया गया, जो पुंजिपतियों को और अधिक आसानी से मेहनतकस जनता की कमाई हड़पने की पूरी छूट देता है। नए कानून श्रमिक वर्ग को गुलामी की तरह हटाते रहने के लिए बाध्य होने की दिशा में ले जाता है। देश के मजदूर केन्द्र के इस मनमाने पूर्ण कदम का कड़ा विरोध कर रहे हैं लेकिन सरकार फिर भी अपनी मनमानी थोप रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *