जहानाबाद: 5 अप्रैल से शैक्षणिक नुकसान की भरपाई के लिए स्कूलों में चलेगा कैच अप कोर्स

नए शैक्षिक सत्र में जिले के सरकारी स्कूलों में अब पांच अप्रैल से बच्चों को कोरोना काल में हुए शैक्षणिक नुकसान की भरपाई के लिए कैचअप कोर्स पढ़ाया जाएगा। शिक्षा विभाग के निर्देश पर अप्रैल के पहले सप्ताह में इसे हर हाल में शुरू करना है। कक्षा दो से नौंवीं तक के बच्चों को यह कोर्स पढ़ाया जाएगा। कैचअप कोर्स के लिए ट्रेंड किए गए स्कूल के शिक्षक यह कोर्स पढ़ाएंगे। कुल साठ कार्य दिवस यानि तीन महीने तक यह कोर्स पढ़ाया जाएगा। प्रारंभिक शिक्षा व सर्वशिक्षा संभाग के डीपीओ रमेश कुमार पाल ने बताया कि कैच अप कोर्स पढ़ाने के लिए स्कूलों को संबंधित बुकलेट भेज दिया गया है। यह बुकलेट कक्षावार है। कक्षा एक से आठवीं तक के सभी प्रारंभिक स्कूलों में कुल तेरह हजार तीन सौ उन्नतीस ट्रेंड शिक्षक कैच अप कोर्स पढ़ाएंगे तथा कक्षा नौं के उच्च माध्यमिक स्कूलों में एक हजार तिरपन ट्रेंड शिक्षक यह कोर्स पढ़ाएंगे। सभी शिक्षकों को कैचअप कोर्स की ट्रेनिंग दे दी गई है जिसका लाभ वे अब बच्चों को देंगे। कोरोना काल में पिछले शैक्षिक सत्र में बच्चों को पढ़ाई में हुई क्षति की भरपायी करने के लिए शिक्षा विभाग के निर्देश पर पूरे राज्य में नए शैक्षिक सत्र में पूर्ववर्ती कक्षा के शैक्षिक सामग्री (कंटेंट ) को छोटा कर तीन महीने का कैचअप कोर्स जानकार व अनुभवी शिक्षकों की टीम द्वारा तैयार किया गया है। कोर्स को शुरू कराने से पहले पूरे जिले में सभी सरकारी स्कूल में विशेष नामांकन अभियान चलाया गया था। कैचअप कोर्स की समाप्ति के बाद नए सिरे से पहले की तरह कक्षाएं चलायी जाएंगीं। कैचअप कोर्स के लिए जिले भर के कई चयनित शिक्षकों को कैचअप कोर्स पढ़ाने की ट्रेनिंग मार्च महीने में दी गई है। बीते साल कोरोना के कारण कार्स पूरा नहीं हो पाया था। इससे विद्यार्थियों को भारी नुकसान हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *