सिरदर्द होता क्यों है:सिरदर्द के 4 कारण जिन्हें लोग नहीं जानते

हार्वर्ड से जुड़ी न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. सैत आशिना कहती हैं, माइग्रेन और तनाव से होने वाले सिरदर्द या क्लस्टर सिरदर्द को बढ़ाने वाले कारणों को ट्रिगर कहा जाता है। अधूरी नींद, प्रोसेस्ड फूड और गंध के अलावा भी कई ऐसे कारण हैं सिरदर्द की वजह बनते हैं। जानिए सिरदर्द के लाइफस्टाइल से जुड़े कारण…

नींद: दर्द का है सम्बंध
नींद की कमी से माइग्रेन और तनाव के कारण सिरदर्द होता है। हालांकि, अबतक इसका सीधा कारण पता नहीं चल पाया है। लेकिन, विज्ञान के मुताबिक, दर्द और नींद का आपस में संबंध जरूर है। अच्छी नींद से सिरदर्द दर्द कम होता है।

डाइट: प्रोसेस्ड फूड से खतरा
कुछ खाद्य पदार्थ जैसे बीन्स, दालें, केला, चीज, डेयरी प्रोडक्ट और प्याज माइग्रेन के दर्द को बढ़ा देते हैं। प्रोसेस्ड फूड जिनमें नाइट्राइट्स, मोनो सोडियम ग्लूटामेट पाए जाते हैं उनसे भी सिरदर्द बढ़ता है।

एनवायरनमेंट: तेज गंध भी सिरदर्द का कारण
इसका असर ज्यादातर सीजनल होता है। बसंत या पतझड़ में लोगों को माइग्रेन का दर्द ज्यादा होता है। चमकदार रोशनी, ह्यूमिडिटी, तेज गंध, मौसम में ठंडक के के कारण यह दर्द होने लगता है। माइग्रेन महिलाओं को ज्यादा होता है।

तनाव: कंधे-गर्दन पर असर
तनाव से कंधे और गर्दन की मांसपेशियां कड़ी हो जाती है। यह दर्द गर्दन और पीठ से शुरू होकर सिर तक पहुंचता है। ऐसा लगातार होने पर कंधे और गर्दन में भी सिर की तरह दर्द महसूस होने लगता है।

50% आबादी साल में एक बार जूझती है
विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक, दुनिया में युवाओं की 50 प्रतिशत आबादी को साल में कम से कम एक बार सिरदर्द से जुड़ा डिसऑर्डर जरूर होता है। वहीं, दुनिया की 1.7% से 4% युवा आबादी महीने में 15 दिन सिरदर्द की समस्या से पीड़ित रहती है।

चेहरे पर होने वाला दर्द भी होता है सिरदर्द
चेहरे पर होने वाले दर्द का कारण सिरदर्द भी हो सकता है, जिसे अक्सर लोग नहीं समझ पाते हैं। जर्मनी की हैमबर्ग यूनिवर्सिटी के मुताबिक, सिरदर्द से जूझ रहे 10 फीसदी लोग चेहरे पर होने वाले दर्द से जूझते हैं। शोधकर्ताओं का कहना है कि चेहरे के दर्द को अब तक सिरदर्द के लक्षण के रूप में नहीं पहचाना गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *